Skip to content

राजस्थान का इतिहास – एक परिचय

राजस्थान का इतिहास – एक परिचय


History of Rajasthan – An Introduction


राजस्थान का इतिहास काफ़ी पुराना है। कुछ पुरातत्ववेत्ताओं एवं इतिहासकारों के मान्यता अनुसार राजस्थान प्राचीन इतिहास पूर्व पाषाणकाल से प्रारंभ हुआ है। राजस्थान की मरुस्थलीय भूमि कई प्राचीन सभ्यताओं की जन्म स्थली रही है। राजस्थान की इस भूमि से कालीबंगा, आहड़, बैराठ, बागौर, गणेश्वर जैसी कई पाषाणकालीन, सिन्धुकालीन और ताम्रकालीन सभ्यताओं का विकास हुआ, जिनसे राजस्थान के इतिहास की प्राचीनता सिद्ध होती है।

प्राचीन इतिहास (900 ईसवी तक) –

पाषाण काल –

पूर्ण पाषाण काल –

  • 5,00,000 – 1,00,000 ईसा पूर्व: प्राचीनतम पुरापाषाण काल [ डीडवाना ]
  • 1,00,000 – 40,000 ईसा पूर्व: मध्यकालीन  पुरापाषाण काल [ लूणी घाटी , बूढ़ा पुष्कर ]
  • 40,000 – 10,0000 ईसा पूर्व: उच्च पुरापाषाण काल
  • 10,000 – 5,000 ईसा पूर्व: मध्यकालीन  पाषाण काल [ बागोर , तिलवाड़ा ]
  • 5000 – 1000 ईसा पूर्व: नव पाषाण काल

सिंधु घाटी सभ्यता –

  • 3500 – 2500 ईसा पूर्व: सिंधु घाटी या हड़प्पा सभ्यता [ कालीबंगा , बहरोड़ , करनपुरा ]

राजस्थान की ताम्र पाषाण संस्कृति –

  • 3000 – 1500 ईसा पूर्व: अहर-बनास संस्कृति [ आयड़ , ओजियाना , गिलुंड , बालाथल , पचमता ]
  • 2500 – 2000 ईसा पूर्व: गेरू रंग का बर्तनों (OCP) संस्कृति [ गणेश्वर , जोधपुरा ]

राजस्थान में लौह-युग –

  • 1500 – 500 ईसा पूर्व: वैदिक काल के दौरान राजस्थान

राजस्थान का ऐतिहासिक काल –

  • 500 – 321 ईसा पूर्व: महाजनपद काल के दौरान राजस्थान
  • 321 – 184 ईसा पूर्व: राजस्थान में मौर्य शासन
  • 1 ईसा पूर्व – 2 ईसवी: राजस्थान में यवन-शुंग-कुषाण काल
  • 351 – 503 ईसवी: राजस्थान में गुप्त काल
  • 500- 700 ईसवी: राजस्थान में हुना, वर्धन साम्राज्य

राजस्थान का प्राचीन इतिहास (900 – 1200 ईसवी तक) –

  • राजपूतों की उत्पत्ति
  • प्राचीन राजस्थान के शासक
  • मंडोर के गुर्जर-प्रतिहार
  • भीनमाल के प्रतिहार
  • मेवाड़ का गुहिल वंश
  • शाकंभरी के चौहान
  • रणथंभौर के चौहान
error: Content is protected !!